साइन-इन करें

 कंटेंट एडिटर



सही म्यूचुअल फंड कैसे चुनें?

भारत में सर्वश्रेष्ठ म्यूचुअल फंड चुनने का फैसला लेने से पहले, यह बेहद ज़रूरी है कि आप अपनी फाइनेंशियल प्लानिंग के लिए उपलब्ध हर विकल्प के फायदे और नुकसान का विश्लेषण करें. यहां 10 बातें बताई गई हैं, जो सर्वश्रेष्ठ म्यूचुअल फंड स्कीम चुनने में आपकी मदद कर सकती हैं.

  • स्व-मूल्यांकन: हमेशा अपनी आवश्यकताओं के अनुसार इन्वेस्टमेंट की योजना बनानी चाहिए. एक इन्वेस्टर को अपनी आयु और फाइनेंशियल आवश्यकताओं पर विचार करना चाहिए. इक्विटी इन्वेस्टमेंट के लिए लंबी अवधि की आवश्यकता होती है, इसलिए, 50 वर्ष की उम्र में इन्वेस्ट करने वाले व्यक्ति की तुलना में 30 वर्ष पुराने इन्वेस्टर का इन्वेस्टमेंट आदर्श माना जाता है. इक्विटी और डेब्ट के बीच इन्वेस्टमेंट का डाइवर्सिफिकेशन, इन्वेस्टर की आयु पर विचार करते हुए किया जाना चाहिए.
  • एक्जिट लोड: स्कीम के बीच ट्रांसफर/स्विच करते समय या रिडीम करते समय यह शुल्क लिया जाता है. रिडेम्पशन या ट्रांसफर/स्विच करने के दौरान एक्जिट लोड %age एनएवी में से घटा दिया जाता है. "नो लोड स्कीम" नामक कुछ ऐसी स्कीम भी हैं जिसमें कोई शुल्क नहीं लगता है. निवेश करते समय हर निवेशक को इस शुल्क को ध्यान में रखना चाहिए.
  • शामिल जोखिम: अधिकांश सिक्योरिटीज़ में इन्वेस्टमेंट के साथ जोखिम का अलग-अलग स्तर भी होता है. एक अच्छा म्यूचुअल फंड, समान जोखिम पर दूसरों की तुलना में अधिक रिटर्न प्रदान करता है. इन कारकों के बीच संतुलन प्राप्त करने से पहले, अनुमानित जोखिम की गणना करने पर आपको अधिकतम रिटर्न पाने में मदद मिलेगी. इसके लिए ज़रूरी है कि इन्वेस्टर अपनी जोखिम सहने की क्षमता का विश्लेषण करें.
  • एसेट एलोकेशन: आमतौर पर एक विशेष सेक्टर, स्टॉक या एसेट कैटेगरी पर आधारित पोर्टफोलियो की तुलना में अलग-अलग सेक्टर पर आधारित पोर्टफोलियो में कम जोखिम होता है. स्टॉक, डेब्ट, गोल्ड, इंडेक्स फंड आदि पर अपनी एसेट आवंटित करना समझदारी है.
  • परफॉर्मेंस में निरंतरता: इन्वेस्टमेंट करने से पहले शॉर्ट टर्म रिटर्न के बजाय 4-10 वर्ष जैसे लॉन्ग टर्म में फंड के लगातार परफॉर्मेंस पर नज़र रखने की सलाह दी जाती है. तब, आपके लिए उन स्कीम को चुनना आसान होगा, जो रिटर्न के मामले में अपने बेंचमार्क इंडेक्स को पीछे छोड़ते हैं. साथ ही, प्रतिस्पर्धियों के साथ उनके रिटर्न की तुलना आसानी से की जा सकेगी.
  • बेहतर फंड हाउस: अपने पसंदीदा फंड के लिए खोज के फिल्टर को सीमित करने से पहले, ऐसे फंड हाउस चुनें, जिनकी, बाज़ार में अच्छी गुडविल हो. इन फंड हाउसों की मज़बूत उपस्थिति के साथ-साथ बेहतर और प्रामाणिक ट्रैक रिकॉर्ड होना चाहिए. बेहतर फंड हाउस, कड़ी मेहनत से कमाए गए आपके पैसे को कुशलता से संभालना और उसका सही से मैनेजमेंट किया जाना सुनिश्चित करेगा,
  • ध्यान रखें: “म्यूचुअल फंड निवेश बाज़ार के जोखिमों के अधीन हैं, स्कीम से संबंधित सभी डॉक्यूमेंट को सावधानीपूर्वक पढ़ें”. इन्वेस्टर को अतिरिक्त जानकारी (एसएआई)/मुख्य सूचना ज्ञापन (केआईएम)/स्कीम इन्फॉर्मेशन डॉक्यूमेंट (एसआईडी) के स्टेटमेंट पर ध्यान देना चाहिए.
  • इन्वेस्टमेंट का उद्देश्य: आमतौर पर, एक इन्वेस्टर यह सुनिश्चित करना चाहता है कि सेविंग से अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने की आपकी क्षमता में वृद्धि हो. इन्वेस्टमेंट को लक्ष्य की अवधि के हिसाब से होना चाहिए. इससे म्यूचुअल फंड का प्रकार तय होता है.
  • एक स्कीम पर्याप्त नहीं हो सकतीः कुछ इन्वेस्टर को मार्केट लिंक्ड रिटर्न के लिए एफएमपी की आवश्यकता होती है, जबकि कुछ लोग सेक्शन 80सी के तहत टैक्स लाभ के लिए ईएलएसएस में इन्वेस्ट करना पसंद कर सकते हैं. अपनी ज़रूरतों को ध्यान में रखते हुए आपको एक से अधिक स्कीम में इन्वेस्ट करना पड़ सकता है.
  • फंड का साइज़: बड़ा फंड बेहतर माना जाता है, क्योंकि बड़े फंड में कम लागत आती है. ऐसा इसलिए है, क्योंकि फंड का खर्च कई बड़े एसेट में बंट जाता है. दूसरी ओर, इसमें कुछ कमियां भी होती हैं, कि बड़े फंड को मैनेज करना मुश्किल हो जाता है.

डिस्क्लेमर
यहां दी गई जानकारी केवल सामान्य पढ़ने के उद्देश्य के लिए है और यहां व्यक्त किए गए विचार केवल राय हैं और इसलिए पाठकों के लिए इन्हें दिशानिर्देश, सलाह या प्रोफेशनल गाइड के रूप में नहीं मानना चाहिए. इंडस्ट्री और मार्केट से संबंधित कुछ तथ्य और सांख्यिकीय जानकारियां (पुराने और अनुमानित) स्वतंत्र थर्ड पार्टी स्रोतों से प्राप्त की गई हैं, जिसे विश्वसनीय समझा जा सकता है. यहां यह ध्यान में रखा जाना चाहिए कि, क्योंकि आरएनएलएएम ने ऐसी जानकारी या डेटा की सटीकता या प्रामाणिकता को स्वतंत्र रूप से सत्यापित नहीं किया है, या इस मामले में, ऐसे डेटा और जानकारी को प्रोसेस या प्राप्त की गई धारणाओं के उचित होने का सत्यापन नहीं किया है; इसलिए आरएनएलएएम ऐसे डेटा और जानकारी की सटीकता या प्रामाणिकता के लिए किसी भी तरह से ज़िम्मेदार या उत्तरदायी नहीं है. इन सामग्रियों में निहित कुछ कथन और दावे, आरएनएलएएम के विचारों या राय को दर्शा सकते हैं, जो ऐसे डेटा या जानकारी के आधार पर बनाए गए हो सकते हैं.

कोई भी निवेश करने से पहले, पाठकों को एक सूचित निवेश निर्णय पर पहुंचने के लिए स्वतंत्र पेशेवर सलाह प्राप्त करने और सभी सामग्रियों का सत्यापन करने की सलाह दी जाती है. कोई भी प्रायोजक, इन्वेस्टमेंट मैनेजर, ट्रस्टी, उनसे संबंधित निदेशक, कर्मचारी, सहयोगी या प्रतिनिधि इस सामग्री में निहित जानकारी से उत्पन्न होने वाली हानि सहित, किसी भी प्रत्यक्ष, अप्रत्यक्ष, विशेष, आकस्मिक, परिणामी, दंडात्मक या अनुकरणीय क्षति के लिए किसी भी तरह से उत्तरदायी नहीं होंगे.

​​​​
डिस्क्लेमर:
निवेशकों के लिए महत्वपूर्ण जानकारी: सभी म्यूचुअल फंड निवेशकों को वन-टाइम केवाईसी (अपने ग्राहक को जानें) की प्रक्रिया से गुजरना होगा. निवेशकों को केवल रजिस्टर्ड म्यूचुअल फंड में ही निवेश करना चाहिए, जिन्हें सेबी की वेबसाइट पर 'इंटरमीडियरी/मार्केट इंफ्रास्ट्रक्चर इंस्टीट्यूशन' के तहत वेरिफाई किया गया है. अपनी शिकायतों के निवारण के लिए, कृपया www.scores.gov.in पर जाएं. केवाईसी की अधिक जानकारी, विभिन्न विवरणों में परिवर्तन और शिकायतों के निवारण के लिए कृपया mf.nipponindiaim.com/investoreducation/what-to-know-when-investing पर जाएं. यह निप्पॉन इंडिया म्यूचुअल फंड द्वारा निवेशक को शिक्षित और जागरूक करने की पहल है.

यहां दी गई जानकारी सामान्य तौर पर केवल पढ़ने के लिए है. यहां व्यक्त किए गए विचार केवल राय हैं. इसलिए, इन्हें पाठकों के लिए दिशानिर्देश, सुझाव या प्रोफेशनल मार्गदर्शक के रूप में नहीं माना जा सकता है. ये डॉक्यूमेंट सार्वजनिक रूप से उपलब्ध जानकारी, आंतरिक रूप से तैयार किए गए डेटा और अन्य विश्वसनीय स्रोतों के आधार पर तैयार किए गए हैं. स्पॉन्सर, इन्वेस्टमेंट मैनेजर, ट्रस्टी या उनका कोई भी डायरेक्टर, कर्मचारी, सहयोगी या प्रतिनिधि ("संस्थाएं और उनके सहयोगी") ऐसी किसी जानकारी के सटीक होने, पूरी होने, पर्याप्त होने और भरोसेमंद होने की कोई ज़िम्मेदारी या वारंटी नहीं नहीं लेते हैं. यह जानकारी पाने वालों को सलाह दी जाती है कि वे अपने विश्लेषण, व्याख्या और जांच पर ही भरोसा करें. पाठकों को सलाह दी जाती है कि वे इन्वेस्टमेंट से जुड़ा निर्णय सोच-समझकर लेने के लिए, किसी स्वतंत्र प्रोफेशनल की सलाह लें. इस कॉन्टेंट को तैयार करने या जारी करने में शामिल व्यक्तियों के साथ-साथ संस्थाएं और उनके सहयोगी किसी भी ऐसे प्रत्यक्ष, अप्रत्यक्ष, विशेष, आकस्मिक, परिणामी, दंडात्मक या किसी अन्य नुकसान के लिए ज़िम्मेदार नहीं होंगे. इस कॉन्टेंट में निहित जानकारी से होने वाले लाभ के नुकसान के, कारण भी शामिल हैं. केवल प्राप्तकर्ता, इस डॉक्यूमेंट के आधार पर लिए गए किसी भी निर्णय के लिए पूरी तरह से ज़िम्मेदार होंगे.
भाषा संबंधी डिस्क्लेमर:
जबकि इस आर्टिकल का संबंधित क्षेत्रीय भाषाओं में अनुवाद करते समय पूरी सावधानी बरती गई है, फिर भी किसी भी शंका या मतभेद के मामले में, अंग्रेजी भाषा में उपलब्ध आर्टिकल को मान्य माना जाएगा. यहां प्रदान किया गया आर्टिकल केवल सामान्य पढ़ने के उद्देश्य के लिए है और इसमें व्यक्त विचार राय मात्र हैं और इसलिए उन्हें पाठकों के लिए दिशानिर्देश, सुझाव या पेशेवर सलाह के रूप में नहीं माना जा सकता. यह डॉक्यूमेंट सार्वजनिक रूप से उपलब्ध डेटा/जानकारी, आंतरिक रूप से विकसित जानकारी और विश्वसनीय माने जाने वाले अन्य स्रोतों के आधार पर तैयार किया गया है. स्पॉन्सर, निवेश मैनेजर, ट्रस्टी या उनके कोई भी डायरेक्टर, कर्मचारी, सहयोगी या प्रतिनिधि ("संस्थाएं और उनके सहयोगी") ऐसी किसी भी जानकारी के सटीक होने, पूर्ण होने, पर्याप्त होने या भरोसेमंद होने की कोई ज़िम्मेदारी या वारंटी नहीं लेते हैं. इस जानकारी को देखने/पढ़ने वालों को सलाह दी जाती है कि वे अपने स्वयं के विश्लेषण, व्याख्या और जांच पर ही भरोसा करें. पाठकों को सूचित निवेश निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र पेशेवर सलाह लेने की भी सलाह दी जाती है. इस सामग्री को तैयार करने या जारी करने में शामिल व्यक्तियों सहित संस्थाएं और उनके सहयोगी, इस सामग्री में शामिल जानकारी से उत्पन्न होने वाले लाभ या हानि या किसी भी प्रत्यक्ष, अप्रत्यक्ष, विशेष, आकस्मिक, परिणामी, दंडात्मक या अनुकरणीय नुकसान के लिए किसी भी तरह से उत्तरदायी नहीं होंगे. इस आर्टिकल के आधार पर लिए गए किसी भी निर्णय की ज़िम्मेदारी केवल प्राप्तकर्ता/पाठक की होगी.
"ये उदाहरण केवल समझने के लिए हैं, ये किसी भी स्कीम के प्रदर्शन से प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से संबंधित नहीं हैं. यहां व्यक्त किए गए सभी विचार राय मात्र हैं और इन्हें पाठक द्वारा अनुसरण किए जाने वाले किसी भी कार्य के लिए दिशानिर्देश या सुझाव नहीं माना जाना चाहिए. यह जानकारी केवल सामान्य पढ़ने के उद्देश्यों के लिए है और इसका उद्देश्य पाठकों के लिए पेशेवर गाइड के रूप में काम करना नहीं है."

म्यूचुअल फंड निवेश बाज़ार जोखिमों के अधीन हैं, स्कीम से जुड़े सभी दस्तावेज़ों को ध्यान से पढ़ें.
टॉप