Sign In

For Suspension of fresh subscription in certain schemes of NIMF, kindly refer to ADDENDUM

 Content Editor

SIP (सिस्टमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान) - SIP का अर्थ और SIP के लाभ | निप्पोन इंडिया म्यूचुअल फंड

एसआईपी (सिस्टमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान): एसआईपी निवेश का अर्थ और लाभ

बधाई हो! आपने फाइनेंशियल रूप से सुरक्षित भविष्य के लिए पहला और सबसे महत्वपूर्ण कदम उठा लिया है. हम इसे महत्वपूर्ण कदम कहते हैं क्योंकि आपने निवेश करने के महत्व को पहचान लिया है, जिससे बहुत सारे लोग अनजान रहते हैं.

अब अगली सबसे बड़ी बात यह है कि आपके मन में एसआईपी को लेकर उत्सुकता जग गई है. भविष्य के लिए फाइनेंशियल कॉर्पस बनाना एक स्मार्ट मूव है, इसमें कोई संदेह नहीं है. और एसआईपी ऐसा करने का एक बेहतरीन तरीका है - निवेश करने का एक स्मार्ट तरीका.

हम इसे निवेश करने का स्मार्ट तरीका कहते हैं क्योंकि यह सुविधाजनक है, इसके माध्यम से निवेश करना आसान है और यह आपको मुद्रास्फीति से बेहतर रिटर्न देने में सक्षम है. ये कारक आपको आपके फाइनेंशियल लक्ष्यों तक आसानी से पहुंचा देते हैं.

हमें यकीन है कि अब आप इसके बारे में अधिक जानना चाहेंगे. इसलिए, बिना इधर-उधर की बात किए, आइए एसआईपी के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करते हैं.

एसआईपी क्या है?

एसआईपी या सिस्टमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान वेल्थ बनाने का एक तरीका है. हालांकि, दूसरे तरीकों के मुकाबले यह कहीं अधिक सुविधाजनक है.

एसआईपी के माध्यम से आप एकमुश्त बड़ी राशि निवेश किए बिना नियमित रूप से पूर्वनिर्धारित राशि निवेश कर सकते हैं. यह निवेश आपकी सुविधा के अनुसार साप्ताहिक, मासिक या तिमाही आधार पर किया जा सकता है.

लेकिन क्या निवेश का यह आवधिक तरीका काम करेगा?

आइए देखते हैं:
a) यह आपमें फाइनेंशियल अनुशासन और नियमित रूप से बचत करने की आदत डालता है.
b) यह मार्केट के उतार-चढ़ावों को मैनेज करने में आपकी मदद करता है.
c) आपका निवेश नियमित अंतराल पर ऑटोमैटिक रूप से किया जाता है. आपको इसके लिए कोई अतिरिक्त कार्यवाही नहीं करनी पड़ती है.

एसआईपी निवेश करने का एक आकर्षक तरीका क्यों है, इसके बारे में अधिक जानकारी यहां दी गई है.

एसआईपी के क्या लाभ हैं?

नए और अनुभवी, दोनों प्रकार के निवेशकों ने अपने फाइनेंशियल लक्ष्यों को प्राप्त करने में एसआईपी विधि को सुविधाजनक पाया है.

यहां जानें क्यों:

कंपाउंडिंग की शक्ति

एसआईपी के माध्यम से एक छोटा सा निवेश भी कंपाउंडिंग की शक्ति के साथ एक बड़ी राशि में बदल सकता है. इस स्थिति में आपके निवेश पर अर्जित ब्याज समय के साथ और अधिक ब्याज अर्जित करता है, जिससे आप अपने फाइनेंशियल लक्ष्यों के लिए काफी बड़ी राशि जमा कर सकते हैं. आप यहांकंपाउंडिंग की शक्ति के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

रुपये की लागत औसत

सुनने में यह शब्द बहुत जटिल लग सकता है, लेकिन इसकी भूमिका काफी महत्वपूर्ण है. रुपी कॉस्ट एवरेजिंग, मार्केट की अस्थिरता के जोखिम को कम करने में मदद करती है. जिसका मतलब है, जब मार्केट में गिरावट आती है तो आपके समग्र निवेश को सबसे अच्छे तरीके से सुरक्षित किया जाता है. अगर आप इस बारे में अधिक जानना चाहते हैं, तो यहां क्लिक करें.

निवेश करने में आसानी

एसआईपी, म्यूचुअल फंड में निवेश करने के सबसे आसान तरीकों में से एक है. आपको बस अपने बैंक को अपने अकाउंट से ऑटो-डेबिट शुरू करने के लिए निर्देश देना होगा. आप यहां क्लिक करकेआसानी से निवेश करना शुरू कर सकते हैं.

अनुशासन

बचत करना कोई आसान काम नहीं है. अचानक से अनचाहे खर्चे आ जाते हैं और आप अपने आप से कहते हैं "अगली बार से शुरू करेंगे". एसआईपी के माध्यम से निवेश करके आप एक तरह से नियमित रूप से बचत करने के लिए प्रतिबद्ध हो जाते हैं. इस तरह, आप बिना किसी विचलन के अपने फाइनेंशियल लक्ष्य प्राप्त कर सकते हैं. आप एसआईपी कैलकुलेटर की मदद से अपने लक्ष्यों के आधार पर अपने निवेश को प्लान भी कर सकते हैं.

आसान शुरुआत करें

एसआईपी की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि आपको किसी भारी भरकम निवेश की आवश्यकता नहीं होती है. आप अपनी सुविधा के अनुसार छोटी राशि से शुरुआत कर सकते हैं और धीरे-धीरे अपना निवेश बढ़ा सकते हैं.

एसआईपी में निवेश कैसे करें

एसआईपी में निवेश करना एक आसान काम है, आपको बस कुछ चरणों का पालन करना है.


अपना लक्ष्य बनाएं प्रत्येक निवेश के लिए एक विशिष्ट लक्ष्य या उद्देश्य होना चाहिए. एक बार जब आप अपना लक्ष्य निर्धारित कर लेते हैं तो इससे आपको अपना इच्छित कॉर्पस, इसे एकत्र करने के लिए लगने वाला समय और निवेश की राशि का अनुमान लगाने में मदद मिलेगी. इसका पता लगाने के लिए आप एसआईपी कैलकुलेटर का उपयोग कर सकते हैं या हमसे संपर्क करें हमारे साथ.

सही फंड और एसआईपी चुनें सही फंड चुनना सबसे महत्वपूर्ण है और इसके लिए आपको सूचित निर्णय लेना चाहिए. हमारी टीम आपको सबसे अच्छा फंड और म्यूचुअल फंड आपके लिए सही एसआईपी चुनने में मदद करेगी.

केवाईसी सभी म्यूचुअल फंड निवेश के लिए आपको अपना केवाईसी रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. आप इस प्रोसेस को आसानी से ऑनलाइन पूरा कर सकते हैं. यहां क्लिक करें​​​ ​​​​ कैसे, यह जानने के लिए. ऑनलाइन केवाईसी प्रोसेस आपके आधार नंबर का उपयोग करती है, जो क्रॉस-वेरिफिकेशन के लिए आपके पैन नंबर से मिलान किया जाता है.

केवाईसी प्रोसेस ऑफलाइन पूरी करने के लिए, कृपया हमसे संपर्क करें और हमें आपकी सहायता करके खुशी होगी. अगर आप निवेश करने के बारे में अधिक जानकारी चाहते हैं, तो बस यहां क्लिक करें.

एसआईपी में निवेश कब करें

इसका एक सीधा-सा जवाब होगा, पहले से बेहतर होगा. एसआईपी में इन्वेस्ट करना एक निरंतर और विकसित होने वाली प्रोसेस है, जो सीधे किसी व्यक्ति के फाइनेंशियल लक्ष्य से संबंधित है. चूंकि, फाइनेंशियल लक्ष्य वर्षों से अधिक आयु या अन्य आवश्यकताओं के कारण बदल सकते हैं, इसलिए अगर इन्वेस्टमेंट स्ट्रेटजी होनी चाहिए.

20s में एसआईपी

यह करियर की शुरुआत करने की उम्र होती है और निवेश करना शुरू करने और फाइनेंशियल प्लानिंग की आदत डालने का इससे बेहतर समय नहीं हो सकता. चूंकि इस उम्र में आय कम होती है, इसलिए आप कम राशि के साथ एसआईपी शुरू कर सकते हैं. अधिक जानें.

पढ़ने के लिए क्लिक करें

30s में एसआईपी

यह वह समय होता है जब आप विभिन्न फाइनेंशियल लक्ष्यों के लिए योजना बनाना शुरू करते हैं, जैसे कि विवाह करना, घर खरीदना आदि. यह एसआईपी के लाभ का उपयोग करने और धीरे-धीरे आवश्यक कॉर्पस बनाने का एक परफेक्ट समय है. इस बारे में अधिक जानें.

पढ़ने के लिए क्लिक करें

40s में एसआईपी

इस समय परिवार की जिम्मेदारियां सबसे अधिक होती हैं. एसआईपी, बच्चों की शिक्षा या रिटायरमेंट की योजना बनाने का एक बेहतरीन तरीका होगा. अधिक जानें.

पढ़ने के लिए क्लिक करें

50s और उससे अधिक की उम्र में एसआईपी

यदि आप रिटायर हो चुके हैं या फिर जल्द ही रिटायर होने वाले हैं, तो आपको एक मजबूत फाइनेंशियल प्लानिंग करनी होगी ताकि आप रिटायरमेंट के बाद भी अपनी पसंदीदा लाइफस्टाइल जारी रख सकें. अधिक जानें.

पढ़ने के लिए क्लिक करें

कुछ लोग इस दुविधा में हो सकते हैं कि एसआईपी और एकमुश्त निवेश के बीच कौन सा विकल्प चुना जाए. यहां पर अधिक जानकारी दी गई है जो आपको निर्णय लेने में मदद करेगी.


एसआईपी, एकमुश्त निवेश से अलग कैसे है?

हालांकि एसआईपी और एकमुश्त निवेश में कुछ अंतर हैं, लेकिन आपका निवेश का नजरिया आपके लक्ष्य और जोखिम की क्षमता पर निर्भर करता है.

कारक एसआईपी लंपसम
निवेश की राशि • कम निवेश का विकल्प
• पहली बार निवेश कर रहे लोगों के लिए अधिक उपयुक्त
• इसमें निवेश की राशि तुलनात्मक रूप से एसआईपी से अधिक होती है
निवेश की फ्रीक्वेंसी • आपकी सुविधा के अनुसार मासिक/साप्ताहिक/तिमाही आधार पर • निवेश के समय मार्केट की वर्तमान स्थिति पर विचार करना आवश्यक होता है
मार्केट की समझ • रुपी कॉस्ट एवरेजिंग औसत लागत को कम करने में मदद करती है और आपको मार्केट की स्थितियों के बारे में विचार नहीं करना पड़ता
• मार्केट को समय देने की आवश्यकता नहीं है
• निवेश के समय मार्केट की वर्तमान स्थिति पर विचार करना आवश्यक होता है
फ्लेक्सिबिलिटी • अधिक • कम
निवेश अवधि • 3-5 वर्ष की सलाह दी जाती है • 5-7 वर्ष की सलाह दी जाती है
सुझाव: अगर आपके पास आय का स्थिर स्रोत नहीं है, तो नियमित आधार पर निवेश करना मुश्किल हो सकता है. ऐसे मामलों में, एकमुश्त निवेश एक बेहतर विकल्प होता है.

ईएलएसएस और एसआईपी

इक्विटी-लिंक्ड सेविंग स्कीम या ईएलएसएस एक प्रकार का म्यूचुअल फंड है. यह मुख्य रूप से इक्विटी में निवेश करता है. एसआईपी निवेश का एक तरीका है जहां आप म्यूचुअल फंड की यूनिट खरीदने के लिए मासिक रूप से छोटी राशि का निवेश करते हैं. इसलिए आप निवेश के एक तरीके के रूप में एसआईपी के माध्यम से ईएलएसएस म्यूचुअल फंड प्लान में निवेश कर सकते हैं.

एसआईपी इंश्योर

जीवन अनिश्चितताओं से भरा है, इसलिए आपके पास हर चीज के लिए एक बैक-अप प्लान होना चाहिए, एसआईपी निवेश के मामले में भी यह बात लागू होती है.

एसआईपी इंश्योर व्यक्तिगत निवेशकों को ग्रुप टर्म इंश्योरेंस के तहत लाइफ इंश्योरेंस कवर प्रदान करता है. यह निप्पॉन इंडिया म्यूचुअल फंड की विशिष्ट स्कीम में एसआईपी करने वाले लोगों के लिए बिना किसी अतिरिक्त लागत के उपलब्ध है.

अगर निवेशक की असमय मृत्यु हो जाती है तो उनका एसआईपी निवेश जारी रहेगा और एसआईपी इंश्योर बाकी की किश्तों को कवर करेगा.

यह आपके जीवन के लक्ष्यों को पूरा करने में आपकी मदद करना एक बेहतरीन तरीका है.

हम आशा करते हैं कि आपने एसआईपी के बारे में बहुत कुछ सीखा है और इस जानकारी ने आपकी शंकाओं को दूर करने में मदद की है. अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमसे संपर्क कर सकते हैं और हमारे विशेषज्ञ आपकी हर संभव सहायता करेंगे.

अगर आपको भरोसा हो चुका है कि एसआईपी के माध्यम से सुरक्षित तरीके से निवेश किया जा सकता है, तो आप अभी निवेश करना शुरू कर सकते हैं.

Get the app